You are here
Home > Kuldevi Miracles > “एक लाख का बाल” – Miracle of Padhay Mata

“एक लाख का बाल” – Miracle of Padhay Mata

Miracle of Padhay Mata – A hair of a Million (एक लाख का बाल)

           भैंसा सेठ को पाढ़ाय माता का यह आशीर्वाद था कि तेरी मूंछ के एक बाल की कीमत एक लाख रुपया होगी । एक बार सेठ की माँ तीर्थयात्रा को गई । सेठ ने उसे अपनी मूंछ का एक बाल दे दिया तथा कहा कि मां यदि तुम्हें रुपयों की आवश्यकता हो तो यह बाल किसी को गिरवी रख देना और बदले में एक लाख रूपये मिल जायेंगे । यात्रा के दौरान गुजरात में सेठ की मां अपने लड़के की बात को आजमाने के उद्देश्य से एक सेठ की दुकान पर गई जो तेल का बड़ा व्यापारी था । उसने व्यापारी से कहा एक बाल रख लो और मुझे एक लाख रूपये दे दो । मैं डीडवाना के भैंसा सेठ की मां हूँ । व्यापारी ने भैंसा सेठ की मां को दुत्कार दिया तथा कहा क्या बाल के बदले भी रूपये मिलते हैं ?भैंसा सेठ की मां जब तीर्थ यात्रा कर वापस लौटी तो उसने अपने बेटे भैंसा सेठ को सारी कहानी सुनाई तथा साथ ही यह भी कहा कि कहीं बाल के बदले रूपये मिलते हैं और वह भी एक लाख ! तुमने नाहक ही मेरी और अपनी मूंछ का एक बाल देकर खिल्ली उड़वाई । सेठ ने विचार किया फिर मन में यह सोचकर कि वरदान तो मुझे मिला है, उसने अपनी माता से व्यापारी का पता ठिकाना पूछा तथा उस व्यापारी के यहां गया । भैंसा सेठ ने तेल व्यापारी से उसके पास उपलब्ध सारे तेल का सौदा किया तथा वहीं तेल व्यापारी के यहां ही एक कुण्डी बनवाई तथा व्यापारी से कहा अपने सौदे का तेल इस कुण्डी में डाल दो, तेल डालते जाओ और पैसे लेते जाओ । व्यापारी ने अपने गोदाम  सारा अकूत तेल उस कुण्डी डाल दिया किन्तु तेल से वह कुण्डी नहीं भरी, आखिर तेल के व्यापारी ने भैंसा सेठ से यह कहते हुए माफी मांगी कि मेरे पास अब और अधिक तेल नहीं है तथा  द्वारा किये गए सौदे के लिए माफी चाहता हूँ तथा साथ ही विनम्रतापूर्वक कुण्डी नहीं भरने का रहस्य पूछा तो भैंसा सेठ ने कहा, ‘मैं वही भैंसा सेठ हूँ जिसके बाल के बदले तूने मरे मां को रूपये नै दिए थे और कहा की मूंछ के बदले रूपये लेने वाले बहुत भैंसा सेठ आते हैं । तेल नहीं भरने का कारण मातेश्वरी भगवती का चमत्कार है । जिसका मैं अकिंचन सेवक हूँ ।’ भैंसा सेठ ने तेल व्यापारी को सौदे के अनुसार पूरा तेल नहीं देने पर अपनी टांग के नीचे से निकाला । कहते हैं तब से वहां एक लांग की धोती बांधते हैं । ऐसा भी कहते हैं की कृपा से कुण्डी में डाला गया सारा तेल डीडवाना आ गया । यह भी कहा जाता है कि गुजरात में उसके बाद तोलने की तखड़ी में चार के स्थान पर तीन डोरियां ही लगाते हैं ।

Sanjay Sharma
Sanjay Sharma is the founder and author of Mission Kuldevi inspired by his father Dr. Ramkumar Dadhich. Mission Kuldevi is trying to get information of all Kuldevi and Kuldevta of all societies on one platform.

2 thoughts on ““एक लाख का बाल” – Miracle of Padhay Mata

प्रातिक्रिया दे

Top

This site is protected by wp-copyrightpro.com