Kuldevi of Narsinghpura Mahajan Jain नरसिंगपुरा महाजन जैनी के गोत्र व कुलदेवियां

Gotra wise Kuldevi of Narsinghpura Mahajan Jain : नरसिंगपुरा महाजन जैनी के गोत्र व कुलदेवियां -नरसिंगपुरा महाजन की उत्पत्ति नरसिंगपुर नगर में हुई। भट्टारकजी श्री रामसेनजी महाराज के उपदेश से अहिंसक धर्म धारण किया गया था। इनकी गोत्रानुसार निम्नलिखित कुलदेवियां रहीं है-



Gotra wise Kuldevi of Narsinghpura Mahajan Jain नरसिंगपुरा महाजन जैनी के गोत्र व कुलदेवियां

सं.गोत्रकुलदेवी

1.

खड़नर

 वारणी देवी

2.

पुलपगर

पावई देवी

3.

भीलणहोड़ा

अवाइ देवी

4.

रयणपारखा

रयणी देवी

5.

अमथिया

रोहणी देवी

6.

भुद्रपसार

भवानी देवी

7.

चिमडिया

घरु देवी

8.

पवलमथा

पावई देवी

9.

पदमा

पलवी देवी

10.

सुमनोहर

सोहणी देवी

11.

कलसधर

मोरिण  देवी

12.

कूंकलो

चक्रेश्वरी देवी

13.

बोरठेच

बहुरूपणी देवी

14.

सापड़िया

पसावती देवी

15.

तेलिया

कांतेश्वरी देवी

16.

बलोला

अंबा देवी

17.

खेलण

कंटेश्वरी देवी

18.

खांभी

बरवासनी देवी

19.

हरसोल

चक्रेश्वरी देवी

20.

नागर

नीणेश्वरी देवी

21.

जसोहर

झांझणी देवी

22.

झड़पड़ा

पिशाची देवी

23.

बारोड़

पिपला देवी

24.

कथोटिया

पिरण देवी

25.

पंचलोल

मोरण  देवी

26.

भोकरवाड़ा

27.

बसोहरा

सीवाणी देवी



Your contribution आपका योगदान  –

जिन कुलदेवियों व गोत्रों के नाम इस विवरण में नहीं हैं उन्हें शामिल करने हेतु नीचे दिए कमेण्ट बॉक्स में  विवरण आमन्त्रित है। (गोत्र : कुलदेवी का नाम )। इस Page पर कृपया इसी समाज से जुड़े विवरण लिखें। नरसिंगपुरा महाजन जैनी से सम्बन्धित अन्य विवरण अथवा अपना मौलिक लेख  Submit करने के लिए Submit Your Article पर Click करें।आपका लेख इस Blog पर प्रकाशित किया जायेगा । कृपया अपने समाज से जुड़े लेख इस Blog पर उपलब्ध करवाकर अपने समाज की जानकारियों अथवा इतिहास व कथा आदि का प्रसार करने में सहयोग प्रदान करें।

11 thoughts on “Kuldevi of Narsinghpura Mahajan Jain नरसिंगपुरा महाजन जैनी के गोत्र व कुलदेवियां”

Leave a Comment

This site is protected by wp-copyrightpro.com