You are here
Home > Community wise Kuldevi > Gotra, Kuldevi of Rajpurohit Community राजपुरोहित समाज के गोत्र व कुलदेवियां

Gotra, Kuldevi of Rajpurohit Community राजपुरोहित समाज के गोत्र व कुलदेवियां

Gotra wise Kuldevi of Rajpurohit Community : शुक्रनीतिसार में कहा गया है कि अर्थ, विद्या में निपुण, वेदों का ज्ञाता, वचन पालक, राजनीतिज्ञ, युद्ध विद्या, एवं समस्त कार्यों में प्रवीण, राष्ट्र निर्माण तथा हित में कार्य करने वाला राजपुरोहित ही है। इस वंश का मारवाड़ के इतिहास में महत्त्वपूर्ण योगदान रहा है।  राजपुरोहित समाज की कुलदेवियां इस प्रकार हैं-




Kuldevi of Rajpurohit Community राजपुरोहित समाज की आराध्य देवियां

सं. गोत्र खांप कुलदेवी

1.

भारद्वाज

सेवड़, सोडा, बीसोत

2.

वशिष्ट

राजगुरु, अजारियों, बाडमेरों, सांचोरा, पिण्डिया सिद्धप, आमेटो, मंदपड़, भवरियों, खोया ओजा, कुरचियो,

पीपलियो, भलार, सिलौरा

3.

जागरवाल

वशिष्ट की धूणी की ज्वाला से पैदा हुए। इनका गोत्र बाल ऋषि भी कहते हैं।

4.

पीपलाद

मूथा, गुन्देचा, रायगुरु, चरक, गोराऊ, सोथड़ा, नन्दवाण, नाणीवाल, गोमतीवाला, अबरिया, बालवन्चा, भगोरा,

मुमड़ियाँ, करनारियाँ, धमनियाँ, घोटा, दताणियां, सैणपुरा, बुडिचियां

5.

गौतम

मनणा, महिवाल

6.

पारासर

सीया, पांचलोड़, चावण्डिया, कैवाणचा, हातला, बोतिया, राड़बड़ा, सोनाणियां

सिघरासी माता

7.

शांडिल्य

दूदावत, व्यास, संखवालचा, रायथला, कतबा, लापा, लापद, गोराखा, पोदरवाल, मावा, मंडवी, हेड़ाऊ, लोहारियां,

रोड़ीवाल, उईयाल, केदारियाँ, बारलेचा, छद्रवाल

8.

उदालिक

उदेच, कैशरियां, मकवाणा, फान्दर, लकावा, कोपराऊ, हलसियां, बाबरियां, डिगारी, नेतरड़, टमटमीयां, रावल,

तरवाड़ी लक्षीवाल, पुणाचा, रूढवा, टिटीपा, जरगालियां, कुचला, ढमढमियां, दादाला, कोसाणो

भंमाई माता

9.

कश्यप

सेपाउ, सोमड़ा, जोती, थानक, बालारियां, पुजारियां, बुजड़, हिड़ार, लुणातरा, लदिवाल, दिवानियां, बुवाड़ी,

सिगला, बारलियां, कृत्वा, बौया, बिरपुरा, भरतीयां, आवलियां, भेपड़, कोटीवाल, टंकावाल, सेवरियां, नारायणचा, सेपड़

READ  महाराष्ट्रीय ब्राह्मणों का इतिहास तथा गोत्रानुसार कुलदेवियाँ Maharashtrian Brahmin
loading…

Your contribution आपका योगदान  –

जिन कुलदेवियों व गोत्रों के नाम इस विवरण में नहीं हैं उन्हें शामिल करने हेतु नीचे दिए कमेण्ट बॉक्स में  विवरण आमन्त्रित है। (गोत्र : कुलदेवी का नाम )। इस Page पर कृपया इसी समाज से जुड़े विवरण लिखें। राजपुरोहित समाज से सम्बंधित अन्य विवरण अथवा अपना मौलिक लेख  Submit करने के लिए Submit Your Article पर Click करें।आपका लेख इस Blog पर प्रकाशित किया जायेगा । कृपया अपने समाज से जुड़े लेख इस Blog पर उपलब्ध करवाकर अपने समाज की जानकारियों अथवा इतिहास व कथा आदि का प्रसार करने में सहयोग प्रदान करें।
Sanjay Sharma
Sanjay Sharma is the founder and author of Mission Kuldevi inspired by his father Dr. Ramkumar Dadhich. Mission Kuldevi is trying to get information of all Kuldevi and Kuldevta of all societies on one platform.

31 thoughts on “Gotra, Kuldevi of Rajpurohit Community राजपुरोहित समाज के गोत्र व कुलदेवियां

  1. उदालक ऋषि का गोत्र भारद्वाज था इसलिए उदेशो की कुलदेवी माँ चामुंडा है।।

  2. दुदावत की कुलदेवी श्री लक्ष्मी माताजी भीनमाल है और खिमत माताजी भी सुना है

    1. जी हां आपकी बात सही है। आप दोनों देवियो को मान सकते है।

    1. Yes kuldevi is naagnechya mata and var devi is bishasth mata which we get from a yudh between rao ji of marwar and lakha bhati

  3. वत्स गोत्रीय सरयूपारीण ब्राम्हण पयासी वंश की कुलदेवी कौन हैं?

  4. Your attempt is really great. But when it has totally false information, it is totally misleading. I am siya Rajpurohit and the kuldevi of siya rajpurohit is Chavanda mata. Located near Jodhpur. The name of village itself a Chavanda from where all Chavandiya Rajpurohit belong.

  5. महोदय,

    जब तक मुझे पता है कि पुरोहितो के गोत्र किसी और जाती या समुदाय से मेल नहीं खाते,

    पर मुझे एक व्यक्ति द्वारा यही जानकारी प्राप्त हुई है के “गर्ग” (मेघवालो के गुरु) “garg” जाती में भी “फोदर” नाम का गोत्र होता है,

    मेरा आपसे यह अनुरोध क्या ऊपर दी गयी जानकारी सही है या नहीं,

    आपका
    अशोक पुरोहित (मामावाली – सिरोही)

    1. brahmrshi garg yaduvashi shaktriyo ke kulguru purohit rahe hi.garg ke vanshaj garg brahman kahlate hi .garg sabhi jati varn ke lia priste kary karne se guru naam se pahchan rakhte hi .fandar ,mamavali,daima,dahwal,nagarwal,pancholi,indoriya esi bahut gotra hi jo sabhi brahman samaj me milti hi.

    2. Kiu shoda gotra rajputo me nhi he! *agar puri jankari jise nhi he unko ye samaj ka koi bhi vivaran net par nhi dena chaiye (Chetan Udesh

    1. मेम्बर बनने हेतु और राजपुरोहित समाज की कोई भी जानकारी के लिए सम्पर्क करे ,

      अखिल भारतीय राजपुरोहित संगठन ® (ABRS)
      रास्ट्रीय अध्यक्ष :- विजय राजपुरोहित
      ए॰बी॰आर॰एस॰:- +91 98863 93600

  6. Shermaan ji Parhnaam Katta 2thi kokanji Aur khokanji hamee batay kya
    sahi ha kuldevi k bare m bhi betaiye Ram Ram sa

  7. गौत्र ॥ रायगर ॥कूलदेवि ॥ आशापुरा माँ

  8. Main Ranjeet Singh rajpurohit gotra selarval hen. Mujhe kuldevi ka pata nahi hen plz mujhe kuldevi ji ka Nam batayenge.

  9. Kuldevi of Gundecha, Mutha etc is ROHIN (ROHINI) mata, not Brahmini mata. Please update the information.

    Rohini Mata temples are in GUNDOJ, BARWA and MADA

  10. Rajpurohit raythal kuldevi shree khimat Mata and madhawat raythala ki kuldevi shree mahalaxmi Mata bhinmal

  11. Raythala Rajpurohit ki kuldevi shree khimat mata and Rajpurohit madhawat raythala ki kuldevi shree mahalaxmi Mata bhinmal rishi sandilya

  12. makona gotra ki kuldevi maa ka name hai
    shri khambal mata
    mataji ka main mandir hai khara rathoran (barmer) mein aur ek unka chota sa mandir gaav panthedi tehsil sayla dist.jalore

  13. सेवडो की कुलदेवी बीस भुजा या बीसहत्‍थ माता है

Leave a Reply

Top