Gotra, Kuldevi of Rajpurohit Community राजपुरोहित समाज के गोत्र व कुलदेवियां

Gotra wise Kuldevi of Rajpurohit Community : शुक्रनीतिसार में कहा गया है कि अर्थ, विद्या में निपुण, वेदों का ज्ञाता, वचन पालक, राजनीतिज्ञ, युद्ध विद्या, एवं समस्त कार्यों में प्रवीण, राष्ट्र निर्माण तथा हित में कार्य करने वाला राजपुरोहित ही है। इस वंश का मारवाड़ के इतिहास में महत्त्वपूर्ण योगदान रहा है।  राजपुरोहित समाज की कुलदेवियां इस प्रकार हैं-

Kuldevi of Rajpurohit Community राजपुरोहित समाज की आराध्य देवियां

सं.गोत्रखांपकुलदेवी
1.भारद्वाजसेवड़, सोडा, बीसोतचामुंडा माता
2.वशिष्टराजगुरु, अजारियों, बाडमेरों, सांचोरा, पिण्डिया सिद्धप, आमेटो, मंदपड़, भवरियों, खोया ओजा, कुरचियो,पीपलियो, भलार, सिलौराअर्बुदा माता
3.जागरवालवशिष्ट की धूणी की ज्वाला से पैदा हुए। इनका गोत्र बाल ऋषि भी कहते हैं।जोगेश्वरी ज्वालामुखी माता
4.पीपलादमूथा, गुन्देचा, रायगुरु, चरक, गोराऊ, सोथड़ा, नन्दवाण, नाणीवाल, गोमतीवाला, अबरिया, बालवन्चा, भगोरा,मुमड़ियाँ, करनारियाँ, धमनियाँ, घोटा, दताणियां, सैणपुरा, बुडिचियांब्रह्माणी माता
5.गौतममनणा, महिवाल
6.पारासरसीया, पांचलोड़, चावण्डिया, कैवाणचा, हातला, बोतिया, राड़बड़ा, सोनाणियांसिघरासी माता
7.शांडिल्यदूदावत, व्यास, संखवालचा, रायथला, कतबा, लापा, लापद, गोराखा, पोदरवाल, मावा, मंडवी, हेड़ाऊ, लोहारियां,रोड़ीवाल, उईयाल, केदारियाँ, बारलेचा, छद्रवाल
8.उदालिकउदेच, कैशरियां, मकवाणा, फान्दर, लकावा, कोपराऊ, हलसियां, बाबरियां, डिगारी, नेतरड़, टमटमीयां, रावल,तरवाड़ी लक्षीवाल, पुणाचा, रूढवा, टिटीपा, जरगालियां, कुचला, ढमढमियां, दादाला, कोसाणोभंमाई माता
9.कश्यपसेपाउ, सोमड़ा, जोती, थानक, बालारियां, पुजारियां, बुजड़, हिड़ार, लुणातरा, लदिवाल, दिवानियां, बुवाड़ी,सिगला, बारलियां, कृत्वा, बौया, बिरपुरा, भरतीयां, आवलियां, भेपड़, कोटीवाल, टंकावाल, सेवरियां, नारायणचा, सेपड़

Your contribution आपका योगदान  –

जिन कुलदेवियों व गोत्रों के नाम इस विवरण में नहीं हैं उन्हें शामिल करने हेतु नीचे दिए कमेण्ट बॉक्स में  विवरण आमन्त्रित है। (गोत्र : कुलदेवी का नाम )। इस Page पर कृपया इसी समाज से जुड़े विवरण लिखें। राजपुरोहित समाज से सम्बंधित अन्य विवरण अथवा अपना मौलिक लेख  Submit करने के लिए Submit Your Article पर Click करें।आपका लेख इस Blog पर प्रकाशित किया जायेगा । कृपया अपने समाज से जुड़े लेख इस Blog पर उपलब्ध करवाकर अपने समाज की जानकारियों अथवा इतिहास व कथा आदि का प्रसार करने में सहयोग प्रदान करें।

110 thoughts on “Gotra, Kuldevi of Rajpurohit Community राजपुरोहित समाज के गोत्र व कुलदेवियां”

  1. उदालक ऋषि का गोत्र भारद्वाज था इसलिए उदेशो की कुलदेवी माँ चामुंडा है।।

    Reply
    • उदेसो की ( udich ) की कुल देवी भामरी देवी है या चामुण्डा देवी है माँ भामरी देवी का मंदिर कहा है ये बता दे तो अच्छा होगा

      Reply
      • सोडा पुरोहित की कुलदेवी कोनसी है
        नागनेशी माता को कुलदेवी मानते है सोडा लोग आपके लेख में आप चामुंडा माता बता रहे हो

        Reply
      • जैसे की हम उदेश है।। पर हमारी कुलदेवी मां वांकल (विरात्रा) है।।

        Reply
    • रुदवाँ गोत्र की कुलदेवी चामुण्डा माताजी है ग़लत जानकारी है

      Reply
    • रुदवाँ गोत्र की कुलदेवी चामुण्डा माताजी है ग़लत जानकारी है

      Jankari galat di hui hai

      Reply
    • मंम्माई मात है उदालक ऋषि गौतम ऋषि गौत्र से कहे जाते हैं शास्त्र अनुसार

      Reply
    • पुनायचा की कुल्देवी का नाम बताने का कस्ट करे

      Reply
    • Udalik gotra ki kuldevi ki sahi jankari dejiye. Hum log fondar hai aur sumerpur k pas kanhakolar me virajman ambe maa ko kuldevi maan kar unko pujte hai.

      Reply
  2. दुदावत की कुलदेवी श्री लक्ष्मी माताजी भीनमाल है और खिमत माताजी भी सुना है

    Reply
    • Yes kuldevi is naagnechya mata and var devi is bishasth mata which we get from a yudh between rao ji of marwar and lakha bhati

      Reply
    • Now sevad Rajpurohits accepted bishath mata as their kuldevi
      Nagnechhi mata is the kuldevi of soda rajpurohit

      Reply
  3. वत्स गोत्रीय सरयूपारीण ब्राम्हण पयासी वंश की कुलदेवी कौन हैं?

    Reply
  4. Your attempt is really great. But when it has totally false information, it is totally misleading. I am siya Rajpurohit and the kuldevi of siya rajpurohit is Chavanda mata. Located near Jodhpur. The name of village itself a Chavanda from where all Chavandiya Rajpurohit belong.

    Reply
    • चामुंडा /चावण्डा माता जी के नाम पर ही चावण्डिया कहलाते हो वास्तविक खाँप पाँचलोड़ है
      शायद,
      मेरी जानकारी के अनुसार

      Reply
  5. महोदय,

    जब तक मुझे पता है कि पुरोहितो के गोत्र किसी और जाती या समुदाय से मेल नहीं खाते,

    पर मुझे एक व्यक्ति द्वारा यही जानकारी प्राप्त हुई है के “गर्ग” (मेघवालो के गुरु) “garg” जाती में भी “फोदर” नाम का गोत्र होता है,

    मेरा आपसे यह अनुरोध क्या ऊपर दी गयी जानकारी सही है या नहीं,

    आपका
    अशोक पुरोहित (मामावाली – सिरोही)

    Reply
    • brahmrshi garg yaduvashi shaktriyo ke kulguru purohit rahe hi.garg ke vanshaj garg brahman kahlate hi .garg sabhi jati varn ke lia priste kary karne se guru naam se pahchan rakhte hi .fandar ,mamavali,daima,dahwal,nagarwal,pancholi,indoriya esi bahut gotra hi jo sabhi brahman samaj me milti hi.

      Reply
    • Kiu shoda gotra rajputo me nhi he! *agar puri jankari jise nhi he unko ye samaj ka koi bhi vivaran net par nhi dena chaiye (Chetan Udesh

      Reply
    • मेम्बर बनने हेतु और राजपुरोहित समाज की कोई भी जानकारी के लिए सम्पर्क करे ,

      अखिल भारतीय राजपुरोहित संगठन ® (ABRS)
      रास्ट्रीय अध्यक्ष :- विजय राजपुरोहित
      ए॰बी॰आर॰एस॰:- +91 98863 93600

      Reply
        • लोहारीया का इतीयास लोहारा गाम के पिसे जाती क सक्रामण हुआ है इस से पहले ऊदालक के वशज है पर हमारी कुलदेवी मोमाइमाता है मोरागढ कच्छ गुजरात मे कुप्या आपने हमारी कुलदेवी का ऊषारण गलत कीया है ओर सवाइसिह ने भी गलत कीया है सो आप सुधार लेना तत्कालिन अगर आप कोई चिज से वफेक नही हो कीशी से साहब पहुच लो कीशी को भर्म मे मत डालो सब ऊलट हो जावे पुजा अर्चना करने से मेरा नाम बिशनसिह राज पुरोहीत गाव आसोतरा का रहने वाला हु हमारा रुषिवर श्र उदालकजी है हमारी कुल देवी श्री मोमाईमा देव स्थान मोरागढ कच्छ मे रापर होकर जाने का ऊसीत लगे तो जाना मेरा फोन 9413517981 हमसे भी समप्रक कर सकते हो जय मोरागढलाली मा आयाओने

          Reply
      • Anybody wants to know about thier kul ki history one can contact to Mr Vijay Rajpurohit
        He gives genuine information

        Reply
      • मुड़ार वंश के लोग पाकस्तान में महाराजा रंजीतसिंह के सरकारी पंडित बताए गए है।
        कौशल गोत्र से है। इनकी कोई जानकारी किसी के पास हो तो बताने की कृपा करें

        Reply
  6. Shermaan ji Parhnaam Katta 2thi kokanji Aur khokanji hamee batay kya
    sahi ha kuldevi k bare m bhi betaiye Ram Ram sa

    Reply
  7. गौत्र ॥ रायगर ॥कूलदेवि ॥ आशापुरा माँ

    Reply
  8. Main Ranjeet Singh rajpurohit gotra selarval hen. Mujhe kuldevi ka pata nahi hen plz mujhe kuldevi ji ka Nam batayenge.

    Reply
  9. Kuldevi of Gundecha, Mutha etc is ROHIN (ROHINI) mata, not Brahmini mata. Please update the information.

    Rohini Mata temples are in GUNDOJ, BARWA and MADA

    Reply
  10. Rajpurohit raythal kuldevi shree khimat Mata and madhawat raythala ki kuldevi shree mahalaxmi Mata bhinmal

    Reply
  11. Raythala Rajpurohit ki kuldevi shree khimat mata and Rajpurohit madhawat raythala ki kuldevi shree mahalaxmi Mata bhinmal rishi sandilya

    Reply
  12. makona gotra ki kuldevi maa ka name hai
    shri khambal mata
    mataji ka main mandir hai khara rathoran (barmer) mein aur ek unka chota sa mandir gaav panthedi tehsil sayla dist.jalore

    Reply
  13. सेवडो की कुलदेवी बीस भुजा या बीसहत्‍थ माता है

    Reply
    • सेवङ की कुलदेवी नागणेची माता गांव नागाणा तहसील पचपदरा जिला बाड़मेर राजस्थान और वर देवी विश्वत माता है और अभी कुलदेवी विस्हत माता को ही मानते हैं

      Reply
  14. Ram Ram Brahmsamaj. Me Gujarat Kachchh district se hu, mera nam Hiteshkumar Bhardwaj he, Gujarat me Raja ke Gaur ko Rajgor kahe te he, jaise Rajasthan me Rajpurohit kahe te he yani arth saman he yani Rajpurohit or Rajgor ka arth saman he. Mera Gotra Bhardwaj he or kuldevi Chamunda he meri surname Khandeka he to muje yahi puchhna he ki Rajpurohit me Khandeka surname kisi ki he ? Bich me ek purohit ne bataya ke balotra me Rajpurohito me yeh surname ati he. Kripya kisi ko ish bare me jankari he to share kare. Jay somnath Mahadev (mere ishtha Dev somnath he or mul chhetra kashi he , hamare purvaj ko Gurjarnaresh mulraj Solanki ne Gujarat me bulaya tha tab se Gujarat me he)

    Reply
  15. RAJGURU VANS KI MAA SARASWATI JO MARKUNDESHWAR DHAM ME STHAPIT HE UNHE HAM AAJ TAK KULDEVI MANTE AYE HE OR BOHOT JAGAH ARBUDA MATA LIKHA HE TO KRIPIYA UCHIT RASTA BTAYE

    Reply
  16. बुजड परीवार की कूलदैवी
    श्री वांकल माता है
    राजस्थान मै बावतरा (जालोर )
    मे कुलदैवी का मंदीर है …
    गुजरात मै कच्छ जिल्ले कै अबडासा तहसिल कै उकीर गांव
    और
    जामनगर जिल्ला के बेड गांव मे
    द्वारका के वरवाला गांव मै बुजड परीवार बसतै है ओर कुलदैवी का मंदीर है

    Reply
  17. जय दाता री
    जय रघुनाथ जी री
    समाज की सभी तरह की जानकारी के लिये सम्पर्क करे जो बन्धु समाज से नही जुडे हुवे या जानकरी का अभाव हो
    सुरज सिह राजगुरू बीकानेर(राजसथान)
    +91-92521-32327whtapp app

    Reply
  18. maa saraswati ko rajguru rajpurohit jo ki sirohi dist rajsthan me ratte h wo mante h y shi h.. maa saraswati mandir ajari gav near pindwara

    Reply
  19. Hamari rayguru ki kuldevi aashapura mata he to hamara gotra konsa he. Aapke hishab se gotra piplad he lekin kuldevi alag hi bata rahehe ye mujhe sahi nahi lag raha.

    Reply
  20. Mera gotta Bhardwaj he or me Hariyana Goud brain samaj ka hi . Meri kuldevi jawaladevi jobber Rajasthan me he.

    Reply
  21. कश्यप ऋषि के गोत्र में बाकलिया गोत्र का नाम शामिल कर लिया जाए । इनकी कुलदेवी क्षेमकरी माता भीनमाल है और ब्राह्मणी माता भी पूजते है

    Reply
  22. लापा गौत्र की कुलदेवी क्षेमंकरी माताजी भीनमाल है।

    Reply
  23. Rajpurohit jagarwalo ki kul Devi Jawala bataye Kiya ye sahi Bhat ravji ki bahi me varnan hai Kiya jankari de

    Reply
  24. हमारी गोत्र मुथर है उसकी कुलदेवी कोनसि देवी है इस का Replay Karo fast dosto or naam bhi Nahi hai list me kya problem hai list me ya to real naam ki list banao ya to fir naam bannao mat

    Reply
  25. Rajguru ki kuldevi kone mata ji he
    Koi bolta he arbuda mata ji
    Sarswati ji
    Kumad mata ji
    Aakhir Bhram Kya he Muje bhi btaye

    Reply
  26. राजपुरोहित जैमन् गोत्र की कुलदेवी कोनसी और कोंनसे स्थान पर ह ।
    बताए राजस्थान से ।

    राम राम जी

    Reply
  27. Hi,
    anyone can tell me that who is the kuldevi of sothra (gotra) and where is the temple of kuldevi?

    Regard
    karan singh rajpurohit

    Reply
  28. सांथुआ राजपुरोहित की वंशावली व कुलदेवी के बारे में जानकारी देने की कृपा करें

    Reply
    • शांडिल्य ऋषि में जोशी गोत्र का उल्लेख नहीं है, और जोशी गोत्र की कुलदेवी खिमज माताजी भीनमाल है!

      Reply
  29. रायतला राजपुरोहित जाती कि कुलदेवी नाम

    Reply
  30. Aap ne gotra ko or sab gotra ko ek sath mila diya hai ayesa mujhe laga agr main galat hoon to mapfhi chata hoon par aap se anurodh hai ki aap ek baar ish visaya ko dekhen

    Reply
  31. इसमें तोमर, सिकरवार, भदौरिया, चौहान, परमार, सेंगर आदि कई राजवंशों के राजपुरोहित का गोत्र सम्मिलित नहीं है और जो दिया है वो पूरी तरह सही नहीं है इसलिए या तो ये गोत्र हटाये जाए या सभी राजपूतों के राजपुरोहित को सम्मिलित किया जाय

    Reply
  32. Rajpurohit शंखवाल्सा व्यास गोत्र की कुलदेवी महालक्ष्मी है ऐसा शास्त्र में बता या गया है

    Reply
  33. Balwansa उदालिक ऋषि के हैं या पिपालद ऋषि के यह बताने का कष्ट करे हुकम

    Reply

Leave a Reply

This site is protected by wp-copyrightpro.com