आसोप स्थित माहेश्वरी समाज की गायल माता और खत्री/अरोड़ा समाज की छाबला माता का मंदिर | Gayal Mata Temple Asop, Jodhpur

Gayal Mata Temple Asop :  गायल माता का मंदिर जोधपुर जिले के आसोप में है । नागौर तथा जोधपुर से आसोप जाया जा सकता है। इस मंदिर में प्रतिदिन भक्तों का तांता लगा रहता है। जोधपुर व आसपास के क्षेत्रों में गायल माता के प्रति विशेष आस्था रखी जाती है। यहाँ यात्रियों के रहने व ठहरने की अच्छी व्यवस्था है।

Gayal Mata Temple Video HD :

गायल माता मंदिर का गर्भगृह और तीन देवियाँ 

गायल माता मंदिर के गर्भगृह में तीन देवी प्रतिमाएं विराजमान हैं। दाहिनी और की सबसे बड़ी प्रतिमा चामुण्डा माता की है। चामुण्डा माता की प्रतिमा के समीप ही मध्य में गायल माता विराजमान हैं जो कि माहेश्वरी समाज में झंवर आदि गोत्रों की कुलदेवी हैं। 

गायल माता की प्रतिमा के समीप विद्यमान सबसे छोटी प्रतिमा छाबला माता है जो कि खत्री / अरोड़ा समाज में कुलदेवी के रूप में पूजित हैं। 

Gayal Mata
Gayal Mata Temple Asop

मंदिर का विशाल प्रांगण 

गायल माता मंदिर के परिसर में प्रवेश करते ही सामने विशाल द्वार आता है इससे आगे बाईं ओर दो धर्मशालाएं बनी हुई हैं जिनके पास ही एक सुन्दर उद्यान बना है। यहाँ से आगे चलने पर बड़ी भोजनशाला स्थित है और उसके बाद मंदिर का कार्यालय आता है। और उसके बाद आता है मंदिर का अंदरूनी परिसर जहाँ गायल माता का मंदिर स्थित है। गायल माता के मंदिर के सामने की ओर हनुमानजी का मंदिर, मूंदियाड़ा माता का छोटा स्थान और एक हवन कुंड बना है। यह सब जानकारी विस्तृत रूप से आप ऊपर दिए गए  video में देख सकते हैं। 

Gayal Mata Temple Asop

स्तम्भ पर उत्कीर्ण शिलालेख 

मन्दिर में गर्भगृह के बाहर की ओर दाहिनी तरफ के स्तम्भ पर शिलालेख अंकित है जिससे इस मंदिर के विक्रम सम्वत 1681 में निर्मित होने की जानकारी मिलती है। 

Inscriptions in Gayal Mata Temple

How to Reach : Gayal Mata Temple Asop on Google Map

4 thoughts on “आसोप स्थित माहेश्वरी समाज की गायल माता और खत्री/अरोड़ा समाज की छाबला माता का मंदिर | Gayal Mata Temple Asop, Jodhpur”

Leave a Comment

This site is protected by wp-copyrightpro.com