गड़ियाघाट माताजी – यहाँ पानी से जलता है दीपक

Gadiyaghat Mata Temple History in Hindi : जहाँ आस्था गहरी हो वहाँ चमत्कार दिखाई दे ही जाते हैं। चमत्कार भी ऐसे कि जो कल्पना से भी परे हो। और ऐसे चमत्कार दिखाई देने  पर हमारी आस्था और भी अधिक गहरी हो जाती है। आज हम एक ऐसे ही चमत्कारी धाम की बात कर रहे हैं। मध्यप्रदेश के शाजापुर जिले में कालीसिंध नदी के किनारे स्थित है गड़ियाघाट वाली माताजी का मन्दिर।  और यहाँ का चमत्कार भी ऐसा कि देखने वाले का सिर श्रद्धा से अपने आप झुक जाता है और ह्रदय के तल से पूरे प्रेमभाव के साथ वाक्य उभरता है -“माँ जगदम्बा की जय”….

इस मन्दिर में एक दीपक है जो पिछले कई वर्षों से जलता आ रहा है। आश्चर्य की बात यह है कि यह दिया घी अथवा तेल से नहीं बल्कि पानी से जलता है।  पूरी तरह शुद्ध पानी। 

Gadiyaghat Mataji

दिये में डाला जाता है नदी का पानी

मंदिर में जो दीपक जल रहा है, उसे जलाने के लिए घी-तेल, मोम या किसी अन्य ईंधन की जरूरत नहीं पड़ती है, बल्कि यह सिर्फ पानी से जलता है। इस दीपक में कालीसिंध नदी का पानी डाला जाता है। जब दीपक में पानी डाला जाता है, तो वह चिपचिपा तरल हो जाता है और दीपक जल उठता है। मंदिर में होने वाले इस चमत्कार को देखने के लिए दूर-दूर से लोग पहुंचते हैं। जब वे अपनी आंखों के सामने पानी से दीपक जलता हुआ देखते हैं, तो उनका मंदिर व देवी के प्रति विश्वास बढ़ जाता है।

यह भी पढ़ें-  जीजी बाई – अनोखा मन्दिर जहाँ मां दुर्गा को चढ़ती है चप्पल और सैंडिल >>Click here

This site is protected by wp-copyrightpro.com