जीजी बाई – अनोखा मन्दिर जहाँ मां दुर्गा को चढ़ती है चप्पल और सैंडिल

Jiji Bai Mata Mandir Bhopal Story in Hindi : सचमुच हमारा देश भारत विविधताओं का देश है।  यूं तो हम भगवान अथवा देवी-देवता के आसपास चप्पल-जूते कभी नहीं रखते लेकिन एक मंदिर ऐसा भी है जहां मां दुर्गा काे नयी चप्पल या सैंडिल चढ़ाई जाती है। जी हाँ,  यह सच है। यह मंदिर है मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में। एक पहाड़ी पर बने इस मंदिर में श्रद्धालु अपनी मन्नतें पूरी होने के बाद चप्पलें चढ़ाते हैं। 

jiji bai mandir


नाम- जीजी बाई का मन्दिर

राजधानी भोपाल के कोलार इलाके में एक छोटी सी पहाड़ी पर बना मां दुर्गा का यह मन्दिर है। जिसे लोग जीजीबाई मंदिर भी कहते हैं। लगभग 18 साल पहले यहां अशोकनगर से रहने आए आेम प्रकाश महाराज ने मूर्ति स्थापना के साथ शिव-पार्वती विवाह कराया था और खुद कन्यादान किया था। तब से वे मां सिद्धदात्री को अपनी बेटी मानकर पूजा करते हैं और आम लोगों की तरह बेटी के हर लाढ़-चाव पूरे करते हैं। ओम प्रकाश महाराज बताते हैं कि लोग यहां मन्नतें मांगते हैं और पूरी होने के बाद नयी चप्पल चढ़ाते हैं। चप्पल के साथ-साथ गर्मी में चश्मा, टोपी और घड़ी भी चढ़ाते हैं। यहाँ दुर्गा जी की देखभाल एक बेटी की तरह होती है। कई बार हमें आभास होता है कि देवी उन्हें पहनाए गए कपड़ोंं से खुश नहीं हैं तो दो-तीन घंटों में ही कपड़े बदल दिये जाते हैं।

यह भी पढ़ें-  यह है शिवपत्नी देवी सती का मस्तक >>Click here


विदेशों से भी आती हैं चप्पल

जीजीबाई माता के लिए उनके भक्त विदेशों से भी चप्पल भेज चुके हैं। मंदिर में आने वाले कुछ लोग विदेश में बस गए हैं। कभी सिंगापुर तो कभी पैरिस से उनके लिए चप्पल आई है। एक दिन चप्पल चढाने के बाद उसे बांट दी जाती है।

यह भी पढ़ें-  लकवे जैसी बीमारियां ठीक कर देने वाली- वटयक्षिणी देवी (झांतलामाता)

This site is protected by wp-copyrightpro.com