श्री केलपूज माता देवी मंदिर किणसरिया

Kelpuj Mata Kinsariya Nagaur
Kelpuj Mata Kinsariya Nagaur

Kelpuj Mata Temple Kinsariya Nagaur : केलपूज माता मन्दिर नागौर जिले के किणसरिया ग्राम में है। यह कैवाय माता मन्दिर की पहाड़ी की तलहटी में स्थित है। किणसरिया गांव  तथा परबतसर के बीचोंबीच स्थित है। इसकी मकराना से दूरी 12 किमी. तथा परबतसर से दूरी 9 किमी. है। यह ललवाणी तथा खाबिया कुल की कुलदेवी हैं।


मन्दिर परिसर भव्य तथा आकर्षक है। मन्दिर के सम्मुख मनमोहक बगीचा है। यहाँ ठहरने की अच्छी व्यवस्था है। मंदिर परिसर में ही सोनाण्या भैरूजी का मन्दिर है। सोनाण्या भैरूजी का मूल मन्दिर पाली जिले के देसूरी गांव से 6 किमी. दूर सोनाणा में है।

केलपूज माता ललवाणी, बांठिया,  बरमेचा, खानिया आदि ओसवाल गोत्रों की कुलदेवी है।

Kelpuj Mata Temple Kinsariya (Nagaur)
Kelpuj Mata Temple Kinsariya (Nagaur)
Kelpuj Mata Temple Kinsariya (Nagaur) 
Kelpuj Mata Temple Kinsariya (Nagaur)
Sonana Bhairav- Kelpuj Mata Temple Kinsariya (Nagaur)
Sonana Bhairav- Kelpuj Mata Temple Kinsariya (Nagaur)

केलपूज माता को कुलदेवी के रूप में पूजने वाले गोत्रों के लिए कुछ नियम हैं –

  • खेजड़ी का वृक्ष शुभ माना जाता है। केले के पेड़ को पवित्र मानते हैं।
  • भक्त केला नहीं खाते और केले के पत्ते पर खाना भी नहीं खाते।
  • काले व हरे रंग के वस्त्र नहीं पहनना।
  • हाथी दांत का चूड़ा, पीले रंग के ओढ़ने, पालना, पालने की डोर और बजने वाले घुंघरू घर के नहीं होते।
  • कमर में किसी भी प्रकार का कंदोरा नहीं पहनते।
  • नवरात्रि में दही नहीं खाते।
  • पुत्र जन्म पर ढाई रुपये और पुत्री जन्म पर सवा रुपये माताजी को चढाने जरुरी है।

कैसे पहुंचे ? (How to reach Kelpuj Mata Temple Kinsariya)

मकराना – परबतसर के मध्य किणसरिया ग्राम है। किणसरिया में केलपूज माता का प्राचीन मन्दिर है। यह देवी केसरिया माता भी कहलाती है। किणसरिया ग्राम अजमेर से 76 किलोमीटर तथा परबतसर से 10 किलोमीटर दूर है। परबतसर से किणसरिया जाने के लिए टैक्सी सुविधा उपलब्ध है।

10 thoughts on “श्री केलपूज माता देवी मंदिर किणसरिया”

Leave a Reply

This site is protected by wp-copyrightpro.com