nausar-mata-pushkar-valley-ajmer

नौसर माता का मन्दिर, पुष्कर घाटी अजमेर

Nausar Mata Temple Pushkar Valley Ajmer : नौसर माता का मन्दिर राजस्थान के अजमेर जिले की पुष्कर घाटी में स्थित है। यह मन्दिर लगभग 1300 वर्ष पुराना है। माता के श्रद्धालु दूर-दूर से यहाँ माथा टेकने और मनौती मांगने आते हैं। वैसे तो यहाँ प्रतिदिन ही उपासकों का ताँता लगा रहता है, परन्तु नवरात्रों में यहाँ विशेष जनसैलाब उमड़ता है। चैत्र और आश्विन नवरात्रों में यहाँ विशाल मेले लगते हैं। मेले के समय रात्रि में विशेष झांकियों का आयोजन होता है।

nausar-mata-pushkar-valley-ajmer
Nausar Mata Pushkar Valley Ajmer

पहाड़ी पर स्थित इस मन्दिर के गर्भगृह में नवदुर्गा के रूप में नौ प्रतिमायें स्थापित हैं। इसी कारण इन्हें नौसर माता कहा जाता है। नौसर माताजी के प्रति इस पूरे क्षेत्र में अपार श्रद्धा है। नवरात्रि के अवसर पर यहाँ नौ दिनों तक धार्मिक आयोजन किये जाते हैं। प्रतिदिन पूजा-अर्चना के साथ प्रत्येक रविवार को मन्दिर में विशेष भीड़ उमड़ती है।

nausar-mata-temple-pushkar-valley-ajmer
Nausar Mata Temple Pushkar Valley Ajmer

नौसर माता को कुलदेवी के रूप में पूजने वाले समाज व गोत्र –

सं.समाज गोत्र

1.

माहेश्वरी खांप:- अजमेरा, पलोड़, चितलांगिया
   

नोट :- यदि आप भी गोत्रानुसार नौसर माता को अपनी कुलदेवी के रूप में पूजते हैं तो कृपया अपना समाज गोत्र आदि का विवरण नीचे Comment Box में लिखें। ऐसा करके कुलदेवियों के इस महाअभियान में सहयोग करें। 

कैसे पहुंचे ?

नौसर माता के मन्दिर जाने के लिए अजमेर से सड़क मार्ग से आसानी से पहुंचा जा सकता है। दिन भर आवागमन के लिए वाहनों की सुविधा है। ठहरने के लिए पुष्कर में अनेक भवन-धर्मशालाएं हैं।

41 thoughts on “नौसर माता का मन्दिर, पुष्कर घाटी अजमेर”

      • सनातनी धर्म ध्वजा से ऊपर कुछ नहीं राष्ट्र ध्वज का सम्मान भी आवश्यक कलियुग तक। कलियुग के पश्चात सतयुगीन व्यवस्था में सिर्फ धर्म ध्वजा।पीओके में तिरंगा यात्रा निकाले । आर्मी बैरक से निकलकर POK में पहुंचे⭐⚔✌

        Reply
    • प्रजापति समाज अजमेरीया के गोत्र की कुलदेवी कौन सी है सभी भाई लोग कहते हैं अजमेर में है लेकिन हमें अभी तक मालूम नहीं है

      Reply
      • प्रजापति समाज अजमेरिया गोत्र कोनसी है कहते है कि अजमेर पुष्कर रोड है कृपया सही मार्गदर्शन करें

        Reply
  1. jai mataji ki
    Sir, mujhe kuldevi ki jankari nahi thi me hamare bhat ke yaha gaya or pothi dikhvai to pothi me karvaria gotra ka ullekh aya vha kul devi nav mata ka ullekh kiya gya h kripya batae ki nav mata ka or koi mandir bhi h ya ye nauser mata ji bhi ho sakti. hum jaipur ke pas chaksu se ute hue h. krpya jankari devi

    Reply
  2. mene hamare samaj me bhat se sampark kiya usne purani pothi kholkar bataya apki kuldevi nav mata h. nav mata kamandir kaha h. him chaksu se ute hue h abhi Jaipur me rahate h. merit jati dhobi h. gotta karvaria h. chaksu me as pass nav mata ka mandir kaha h.

    Reply
  3. Nousara Mata is kuldevi of Gurjar Hankla , still this temple is property of Gurjar Hankla of Pushkar . Their all several villages of Gurjar Hankla around the Pushkar town from thousand of years .

    Reply
  4. प्रणाम
    हमारा शासन-पालङीया है, गौत्र -मुद्गल है, हम जांगीङ ब्रामण में आते हैं, हमारी कुलदेवी कौनसी माताजी है, कृपया बताएं, धन्यवाद

    Reply
  5. गुर्जर समाज
    गौत्र फागणा
    निवास जयपुर
    राज्य राजस्थान

    Reply
    • गुर्जर समाज गोत्र फागणा निवास रूपनगढ़ अजमेर

      Reply
    • हम सिखवाल ब्राह्मण हमारा गोत्र नौसारिया है हमारी कुलदेवी नौसर माता हैं लेकिन यंहा पर आपने जो पुष्कर मेँ जो माता का मंदिर बताया हे वो माहेश्वरी समाज का बताया है कृपया बताएं की सिखवाल ब्राह्मणो की माता का मंदिर कहाँ है

      Reply
  6. जय मां नौसर
    क्षत्रियों की कुलदेवी है नोसर माता हम क्षत्रिय गुर्जर समाज के संरक्षक है जिन्हे राव कहा जाता है हमारी नियात कविता एवम् लेखनी का कार्य करती है ये कुलदेवी क्षत्रिय राव समाज जो गुर्जर ठिकानों के संरक्षक थे उनकी कुलदेवी है इसलिए आज भी इनकी पूजा एक हाथ में शस्त्र रखकर की जाती है हमारी कुलदेवी ब्राह्मणी है एवम् सभी स्वरूपो की पूजा की जाती है
    राव रणवीर सिंह
    ठिकाना :- मारवाड़ जंक्शन पाली राजस्थान
    जय मां नोसर

    Reply
  7. जी भाई मैं भी हाकला हु हमारी भी कुलदेवी नोसर माता है ।

    Reply
  8. जय माता दी

    नाम – रामसिंह फागणा
    जिला – जयपुर

    जाति – गुर्जर
    गोत्र – फागणा
    नौसर माता फागणा गोत्र , जाति – गुर्जर की कुल देवी है।

    Reply
  9. नोसर माता गुर्जर समाज की हाँकला समाज की भी कुल देवी है पुष्कर ओर अजमेर के बीच मे पहाड़ पर बैठी

    Reply
  10. हम सिखवाल ब्राह्मण कोटा निवासी हैं हमारा गोत्र नौसारिया है हमारी माता भी नौसर माता है कृपया बताएं सिखवाल ब्राह्मणो की माता का मंदिर कौन सा हैं

    Reply

Leave a Reply

This site is protected by wp-copyrightpro.com