nausar-mata-pushkar-valley-ajmer

नौसर माता का मन्दिर, पुष्कर घाटी अजमेर

Nausar Mata Temple Pushkar Valley Ajmer : नौसर माता का मन्दिर राजस्थान के अजमेर जिले की पुष्कर घाटी में स्थित है। यह मन्दिर लगभग 1300 वर्ष पुराना है। माता के श्रद्धालु दूर-दूर से यहाँ माथा टेकने और मनौती मांगने आते हैं। वैसे तो यहाँ प्रतिदिन ही उपासकों का ताँता लगा रहता है, परन्तु नवरात्रों में यहाँ विशेष जनसैलाब उमड़ता है। चैत्र और आश्विन नवरात्रों में यहाँ विशाल मेले लगते हैं। मेले के समय रात्रि में विशेष झांकियों का आयोजन होता है।



nausar-mata-pushkar-valley-ajmer
Nausar Mata Pushkar Valley Ajmer

पहाड़ी पर स्थित इस मन्दिर के गर्भगृह में नवदुर्गा के रूप में नौ प्रतिमायें स्थापित हैं। इसी कारण इन्हें नौसर माता कहा जाता है। नौसर माताजी के प्रति इस पूरे क्षेत्र में अपार श्रद्धा है। नवरात्रि के अवसर पर यहाँ नौ दिनों तक धार्मिक आयोजन किये जाते हैं। प्रतिदिन पूजा-अर्चना के साथ प्रत्येक रविवार को मन्दिर में विशेष भीड़ उमड़ती है।

nausar-mata-temple-pushkar-valley-ajmer
Nausar Mata Temple Pushkar Valley Ajmer

 

नौसर माता को कुलदेवी के रूप में पूजने वाले समाज व गोत्र –

सं.समाज गोत्र

1.

माहेश्वरी खांप:- अजमेरा, पलोड़, चितलांगिया

नोट :- यदि आप भी गोत्रानुसार नौसर माता को अपनी कुलदेवी के रूप में पूजते हैं तो कृपया अपना समाज गोत्र आदि का विवरण नीचे Comment Box में लिखें। ऐसा करके कुलदेवियों के इस महाअभियान में सहयोग करें। 

loading…

कैसे पहुंचे ?

नौसर माता के मन्दिर जाने के लिए अजमेर से सड़क मार्ग से आसानी से पहुंचा जा सकता है। दिन भर आवागमन के लिए वाहनों की सुविधा है। ठहरने के लिए पुष्कर में अनेक भवन-धर्मशालाएं हैं।

25 thoughts on “नौसर माता का मन्दिर, पुष्कर घाटी अजमेर”

  1. जय मां नौसर
    क्षत्रियों की कुलदेवी है नोसर माता हम क्षत्रिय गुर्जर समाज के संरक्षक है जिन्हे राव कहा जाता है हमारी नियात कविता एवम् लेखनी का कार्य करती है ये कुलदेवी क्षत्रिय राव समाज जो गुर्जर ठिकानों के संरक्षक थे उनकी कुलदेवी है इसलिए आज भी इनकी पूजा एक हाथ में शस्त्र रखकर की जाती है हमारी कुलदेवी ब्राह्मणी है एवम् सभी स्वरूपो की पूजा की जाती है
    राव रणवीर सिंह
    ठिकाना :- मारवाड़ जंक्शन पाली राजस्थान
    जय मां नोसर

    प्रतिक्रिया

Leave a Comment

This site is protected by wp-copyrightpro.com