लालसोट की पपलाज माता दर्शन || Paplaj Mata Temple – Lalsot, Dausa Rajasthan

पपलाज माता (Paplaj Mata) का मन्दिर राजस्थान के दौसा जिले के लालसोट (Lalsot) नगर से लगभग 20 Km. की दूरी पर एक पहाड़ी की तलहटी में स्थित है। दौसा से जाने वाले यात्रियों को लालसोट जाने की जरुरत नहीं है। लालसोट के रास्ते में ही नांगल से एक रास्ता पपलाज माता के मन्दिर के लिये जाता है। … Read more लालसोट की पपलाज माता दर्शन || Paplaj Mata Temple – Lalsot, Dausa Rajasthan

Durga Mata Temple – Durgapura Jaipur

जयपुर नगर में दक्षिण दिशा में टोंक रोड पर स्थित दुर्गापुरा में देवी दुर्गा का भव्य मंदिर बना है। जिसमें दुर्गा की भव्य और सजीव प्रतिमा प्रतिष्ठापित है। ज्ञात इतिहास के अनुसार इस मन्दिर का निर्माण जयपुर के महाराजा सवाई प्रतापसिंह के शासनकाल में  हुआ था। पुजारी जी ने बताया कि दुर्गामाता की प्रतिमा को … Read more Durga Mata Temple – Durgapura Jaipur

“सुरजल माता के चमत्कार” – Miracles of Surjal Mata Sudrasan

Miracles of Surjal Mata- Sudrasan धर्म संकट Surjal Mata, Muslim Priest & the Legator     सुरजल माता (Surjal Mata) के मन्दिर का पहला पुजारी एक मुसलमान था, जिसका नाम सफदल खां था। वह कायमखानियों में मलवान जाति का प्रवर्तक था। वह एक जागीरदार था। वह माताजी की पूजा किया करता था। इस नगरी में उस समय सोना बहुत था। सोने … Read more “सुरजल माता के चमत्कार” – Miracles of Surjal Mata Sudrasan

Sudarshana / Sudrasan / Surjal Mata Temple – Didwana

Sudarshana / Sudrasan / Surjal Mata Temple – Didwana सुदर्शना  माता / सुरजल माता सुरजल माता का मन्दिर ग्राम सुद्रासन के उत्तर में एक टीले पर अवस्थित है। माताजी का विशाल ओरन (माताजी के नाम से छोड़ा गया भू-भाग) 1160 बीघा है। यह बहुत प्राचीन मन्दिर है। कहा जाता है कि यह मन्दिर महाभारतकाल का है। … Read more Sudarshana / Sudrasan / Surjal Mata Temple – Didwana

Padhay Mata ka Chamatkar: “एक लाख का बाल”

Miracle of Padhay Mata – A hair of a Million (एक लाख का बाल)            भैंसा सेठ को पाढ़ाय माता का यह आशीर्वाद था कि तेरी मूंछ के एक बाल की कीमत एक लाख रुपया होगी । एक बार सेठ की माँ तीर्थयात्रा को गई । सेठ ने उसे अपनी मूंछ का एक बाल दे दिया तथा … Read more Padhay Mata ka Chamatkar: “एक लाख का बाल”

पाढ़ाय माता दर्शन : नमक झील, डीडवाना | Padhay Mata Temple Marwar Baliya, Didwana

पाढ़ाय माता का मन्दिर (Padhay Mata Temple)         पाढ़ाय माता (Padhay Mata) का मन्दिर राजस्थान के नागौर जिले में डीडवाना से 12 कि.मी. दूर मारवाड़ बालिया स्टेशन (Marwar Baliya Station) के पास 2 कि.मी. की दूरी पर स्थित है। पाढ़ाय माता के मन्दिर का निर्माण वि.सं. 902 में आसोज सुदी 9 को हुआ। यह … Read more पाढ़ाय माता दर्शन : नमक झील, डीडवाना | Padhay Mata Temple Marwar Baliya, Didwana

Padhay Mata ka chamatkar: “जब अंग्रेज हुआ माता का भक्त”

Miracle of Padhay Mata – When a Britisher became devotee (जब अंग्रेज हुआ माता का भक्त) पाढ़ाय माता के चमत्कार के सम्बन्ध में एक कथा यह है कि इस इलाके में एक अंग्रेज अफसर आया था। वह देवी-देवताओं आदि के अस्तित्व को नहीं मानता था। एक बार नमक की झील में पानी ही पानी भर … Read more Padhay Mata ka chamatkar: “जब अंग्रेज हुआ माता का भक्त”

Padhay Mata ka Chamatkar: “डाकुओं से रक्षा”

Miracle of Padhay Mata – Security from Bandits (डाकुओं से रक्षा)         पाढ़ाय माता के चमत्कार को दर्शाता एक कथानक लक्खी बनजारे का है। उसने माताजी के मंदिर के चौक में पानी संग्रह के लिए हौज बनवाया । इस हौज में वर्षा का जल एकत्रित किया जाता है । कथानक यह है कि एक बार  लक्खी … Read more Padhay Mata ka Chamatkar: “डाकुओं से रक्षा”

Suraliya Mata Temple Didwana

सुरल्या माता (Suraliya / Suralya Mata) का मन्दिर नागौर जिले के डीडवाना नगर में पं. बच्छराज व्यास आदर्श विद्या मन्दिर विद्यालय में स्थित है। सुरल्या माता माहेश्वरी समाज में भराड़िया / भुराड़िया  (Bharadiya / Bhuradiya) तथा मानधना / मानधन्या (Mandhana / Mandhanya) खांप की कुलदेवी है। माताजी की प्रतिमा अत्यन्त सुन्दर तथा वात्सल्यपूर्ण है।

Narayani Mata Temple Alwar

नारायणी माता (Narayani Mata) का मन्दिर भारतवर्ष में सैन समाज (Sain Samaj) से जुड़ा एकमात्र मन्दिर है। सती नारायणी माता सैन समाज की कुलदेवी के रूप में पूजी जाती है। नारायणी माता का मंदिर राजस्थान के अलवर जिले में अमनबाग (Amanbagh) से 14 K.M. दूर सरिस्का राष्ट्रीय उद्यान (Sariska National Park) के किनारे पर स्थित … Read more Narayani Mata Temple Alwar

This site is protected by wp-copyrightpro.com