You are here
Home > विविध

चौहान वंश का इतिहास, शाखायें, ठिकाने व कुलदेवी | Chauhan Rajput Vansh History in Hindi |Kuldevi

राजपूतों के 36 राजवंश में चौहानों का भारतीय इतिहास में विशेष महत्त्व रहा है | इन्होंने 7वीं शताब्दी से लेकर देश की स्वतंत्रता तक राजस्थान के विभिन्न क्षेत्रों पर शासन किया है तथा दिल्ली पर शासन कर सम्राट का पद भी प्राप्त किया | उत्पत्ति :- चौहानों की उत्पत्ति के सन्दर्भ में

प्रजापति / कुम्हार समाज का परिचय, इतिहास, शाखायें व कुलदेवी श्रीयादे माता | Prajapati Samaj Kuldevi | Shriyade Mata | Kumhar Caste History in Hindi

परिचय :- Prajapati Samaj | Kumhar caste history in hindi : कुम्हार शब्द का जन्म संस्कृत भाषा के 'कुम्भकार' शब्द से हुआ है | जिसका अर्थ है -मिट्टी का बर्तन बाने वाला | द्रविड़ भाषाओं में भी कुम्भकार शब्द का यही अर्थ है | कुम्हारों का दुसरा नाम प्रजापत भी है | "भांडे"

यदु वंश /यादवों का इतिहास, शाखायें व कुलदेवी | History of Yadu Vansh | Yadav Samaj ka Itihas | Khaanp | Kuldevi

यदुवंश का परिचय व इतिहास  भारत की समस्त जातियों में यदुवंश बहुत प्रसिद्ध है | माना जाता है कि इस वंश की उत्पत्ति श्रीकृष्ण के चन्द्रवंश से हुई है। यदु को सामान्यतः जदु भी कहते हैं तथा ये पूरे भारत में बसे हुए हैं। श्रीकृष्ण के पुत्रों प्रद्युम्न तथा साम्ब के ही वंशज यादव

गहलोत वंश का परिचय, इतिहास और कुलदेवी बाणमाता |Guhilot / Gahlot History|Kuldevi

guhilot-rajput

गुहिलोत वंश का इतिहास  |History of Guhilot Vansh: भगवान राम के असली वंशधर  Guhilot / Gahlot / गुहिलोत / गहलोत : इस वंश के स्वामी और छत्तीस कुल के भूषण, सूर्यवंशी महाराणा चित्तौड़ाधीश हैं, यह रामचन्द्र जी के असली वंशधर माने जाते हैं, सूर्यवंशी अंतिम राजा सुमित्र से इनका सम्बन्ध है,

श्रीमहालक्ष्मीचरितमानस:सुन्दरकाण्ड | Shree Mahalakshmi Charit Manas

#Mahalakshmi #CharitManas #Sundarkand #Deepawali #Diwali #महालक्ष्मी (सर्वाधिकार सुरक्षित ) श्रीगणेशाय नमः श्रीमहालक्ष्मीर्विजयते  श्रीमहालक्ष्मीचरितमानस चतुर्थ सोपानश्री सुन्दरकाण्ड आर्ष स्तुति ऊर्णनाभाद्यथा तन्तुर्विस्फुलिंगा विभावसोः |तथा जगद्यदेतस्या निर्गतं तां नता वयम् ||यन्मायाशक्तिसंक्लृप्तं जगत्सर्वं चराचरम् |तां चितिं भुवनाधीशां स्मरामः करुणार्णवाम् ||यदज्ञानाद् भवोत्पत्तिर्यज्ज्ञानाद् भवनाशनम् |संविद्रूपां च तां देवीं स्मरामः सा प्रचोदयात् ||महालक्ष्म्यै च विद्महे सर्वशक्त्यै च धीमहि |तन्नो देवी प्रचोदयात् ||  मंगलाचरण श्लोक  या

इस दुर्लभ स्तुति से होंगी महालक्ष्मी प्रसन्न | SHREE MAHALAKSHMI STOTRA | STUTI | AYI MAHALAKSHMI VIPATTI NIVARINI

#Shree#Mahalakshmi#Stuti#Stotra भगवती महालक्ष्मी को प्रसन्न करने का सबसे सरल उपाय। .. इस दुर्लभ श्री महालक्ष्मी स्तुति को सुनिए और साथ-साथ पाठ करिये। जय माँ महालक्ष्मी ... Shree Mahalakshmi Stotra | महालक्ष्मी स्तोत्र : (सर्वाधिकार सुरक्षित) अयि महालक्ष्मि विपत्ति निवारिणि दैन्यविदारिणि विश्वनुते, प्रेमानन्दसुधारसभासिनि भक्तिप्रकाशिनि प्रीतिभरे | ऋषिमुनिहृदयागारनिवासिनि

कुलबी / पटेल समाज की कुलदेवियां | Kalbi / Patel / Anjana / Patidar Samaj ki Kuldeviya

kalbi-patel-samaj-kuldevi

Kalbi / Kulbi / Patel / Anjana Samaj : कलबी या पटेल समाज के लोग राजस्थान, गुजरात एवं मध्यप्रदेश में बहुतायत से निवास करते हैं। इन्हें कलबी/Kalbi / Kulbi, कणवी/Kanvi, कुलूम्बी/Kulumbi आंजणा / Anjana आदि नामों से भी पुकारा जाता है। इन्हें गुजरात में पाटीदार / Patidar तथा मारवाड़ में पटेल / Patel

सीरवी समाज की कुलदेवियाँ | Seervi Samaj ki Kuldevi

seervi samaj

Seervi Samaj ka Itihas : सीरवी अपने को राजपूत बतलाते हैं। जब कान्हड़देव चौहान अलाउद्दीन से हार गया तब वहां के कुछ राजपूत कुओं में पानी (सीर) बताने का काम करने लगे। इससे इन्हें सीरवी कहा जाने लगा। सीर का एक अर्थ खेती भी होता है इसलिए अच्छी कृषि करने

वैष्णो देवी की यात्रा व दर्शन | Vaishno Devi Yatra story and Darshan

Vaishno-Devi-yatra

Vaishno Devi Yatra : नमस्ते मित्रों ! उत्तरी भारत की यात्रा के दौरान अमृतसर दर्शन करने के बाद मैं वहां से जम्मू के कटरा में स्थित विश्व प्रसिद्ध वैष्णो देवी के दर्शन करने गया।  इस Post में मैं अपनी इस '' Amritsar to Jammu Bike Ride '' की यात्रा और वैष्णो देवी

अमृतसर : जहाँ राम को मिला था जीवनदान | Visiting Places in Amritsar

Visiting Places in Amritsar : नमस्ते मित्रों मैं संजय शर्मा आप सभी का हार्दिक स्वागत करता हूँ। आज मैं आपको Video के जरिये अमृतसर की कहानी बता रह हूँ। यह वीडियो मेरी उत्तरी भारत की यात्रा का अंश है। मेरी सम्पूर्ण यात्रा आप मेरे Youtube Channel 'देविका टीवी' पर देख सकते हैं।  इस

Top

This site is protected by wp-copyrightpro.com